‘रनिंग बॉय’ Pradeep Mehra’s की रातोंरात प्रसिद्धि भारत के योग्यता और सफलता के जुनून को दर्शाती है

Spread Love

मूलरूप से अल्मोड़ा के रहने वाले Pradeep Mehra मां की दवाई और अपनी पढ़ाई के लिए नोएडा में काम कर रहे हैं। दो दिन पहले उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसके बाद देशभर.

मुश्किलों को मात देकर आगे निकलने की जिद हो तो कदमों में रफ्तार अपने आप आ जाती है। रात 12 बजे नोएडा की सड़कों पर दौड़ते 19 साल के प्रदीप मेहरा (Pradeep Mehra) का वायरल विडियो उनके जोश और जज्बे की कहानी बयां कर रहा है। सेक्टर 49 बरौला में अपने भाई के साथ रह रहे Pradeep को पारिवारिक स्थिति ठीक न होने के चलते अपनी पढ़ाई और मां की दवाई के लिए कम उम्र में ही उत्तराखंड स्थित अपने गांव को छोड़ना पड़ा।

Pradeep Mehra मूलरूप से उत्तराखंड

अल्मोड़ा जिले के रहने वाले हैं। मां की दवाई और अपनी पढ़ाई के लिए नोएडा में आकर तीन महीने से सेक्टर 16 स्थित अंतरराष्ट्रीय फूड चेन में काम कर रहे हैं। 19 साल के Pradeep  Army में भर्ती के लिए फिजिकल प्रैक्टिस को पूरा करने के लिए रोजाना सेक्टर 49 बरौला से सेक्टर 16 स्थित रेस्तरां तक लगभग 10 किमी की दौड़ लगाते हुए आते और जाते हैं। कुछ दिन पहले उनका विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसके बाद देशभर से तमाम हस्तियों ने Pradeep की तारीफ करते हुए मदद की पेशकश की है। Army के अफसर भी उन्हें प्रोत्साहित कर रहे हैं।

Pradeep Mehra ने बताया कि

उन्हें खुशी है कि उनकी मदद को लोग हाथ बढ़ा रहे हैं। उनका सपना है कि वह Army में जाकर देश की सेवा करें। इसके लिए वह लगातार प्रैक्टिस कर रहे हैं। Pradeep Mehra के पिता कुंवर सिंह मेहरा गांव में खेतीबाड़ी करते हैं। उनके बड़े भाई Pankaj Mehra  नोएडा की ही कंपनी में काम करते हैं। मां की तबीयत खराब होने के बाद आर्थिक स्थिति बिगड़ने लगी और इलाज भी ढंग से नहीं हो पा रहा था। इसके बाद Pradeep भी राजकीय इंटर कॉलेज तड़ागताल से इंटरमीडिएट करने के बाद नोएडा आकर भाई के साथ रहने लगे। शुरू में उन्होंने फेज-2 की कंपनी में हेल्पर का काम किया। वहां उन्हें 8 हजार रुपये मिल जाते थे। उससे मां का इलाज और घर का खर्च दोनों भाई मिलकर कर लेते थे।

लॉकडाउन में हो गया 5 लाख का कर्ज

इसी बीच लॉकडाउन लग गया तो वह दोबारा से अपने गांव चले गए। इस बीच मां की दवा और अन्य खर्च बढ़ने लगे। लगभग 5 लाख रुपये का कर्ज भी हो गया। इसके बाद प्रदीप नोएडा में इग्नू से ग्रैजुएशन में दाखिला लेकर फूड चेन के साथ जुड़कर काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मां के इलाज में काफी पैसा लग रहा है। उन्हें लीवर में समस्या है।

‘गलत काम थोड़े कर रहा हूं’

Pradeep ने बताया कि मैं रोज रेस्तरां से घर तक दौड़ लगाता हूं। कभी कभी कोई लिफ्ट देने के लिए मिल जाता है लेकिन मैं लिफ्ट नहीं लेता हू। मुझे Army में जाने के लिए दौड़ की प्रैक्टिस करनी है। रात में दौड़ते वक्त जब एक पत्रकार ने विडियो बनाने के बाद बताया कि मैंने विडियो बना लिया है। अब वायरल हो जाओगे। इस पर Pradeep ने कहा कि मैं कोई गलत काम थोड़े कर रहा हूं। Pradeep Mehra का ये वीडियो इतना वायरल हुआ कि हर कोई इसकी प्रशंसा करने से खुद को रोक नहीं पाया। इस विडियो को छत्तीसगढ़ की धाकड़ आईपीएस अफसर अंकिता शर्मा ने भी ट्वीट किया है। Pradeep Mehra के वीडियो को अब तक 4.9 मिलियन (50 लाख) से ज्यादा लोग देख चुके हैं।


Spread Love

Leave a Reply

Your email address will not be published.