Sarabjit Singh – अनजाने में पाकिस्‍तानी सीमा पर पहुंचा था।

बहन ने उसके जीवन के लिए 23 साल लंबी लड़ाई लड़ी! पत्नी ने गुरुद्वारे में ना जाने कितनी ही अरदास लगाईं और बेटियों की आंखें अपने पिता को देखने के लिए तरस गई… लेकिन वो अपने पिंड वापिस नहीं लौटे। ये कहानी है ‘Sarabjit ’ की. वो Sarabjit जिन्हें, उस गलती की सज़ा मिली, जो उन्होंने कभी की ही नहीं! उनका गुनाह तो सिर्फ इतना था कि उन्होनें बेसुध हालत में देश की सीमा के बाहर कदम रख दिया था।

Read more